Sabse chhoti abhajya sankhya kya hai | सबसे छोटी अभाज्य संख्या

सबसे छोटी अभाज्य संख्या क्या है – अभाज्य संख्या किसे कहते हैं?

दोस्तों पहले के आर्टिक्ल में हमने बताया कि Abhajya sankhya kise kahate hain. अगर आपको नहीं पता तो कि Abhajya sankhya kise kahate hain तो उस आर्टिकल आप पढ़ सकते हैं और आज के आर्टिकल में हम बताएंगे कि sabse chhoti abhajya sankhya kya hai

Sabse chhoti abhajya sankhya kya hai

Sabse Chhoti Abhajya Sankhya kya hai – सबसे छोटी अभाज्य संख्या क्या है

दोस्तों सबसे छोटी अभाज्य संख्या 2 होती है और सबसे छोटी भाज्य संख्या 4 होती है एक अभाज्य संख्या एक ऐसी संख्या है जो केवल 1 या स्वयं से विभाज्य हैं, यह संख्या किसी अन्य संख्या से विभाज्य नहीं होगी, इसलिए प्रथम अभाज्य संख्या “दो” हैं

अभाज्य संख्या:  2, 3, 5, 7, 11, 13, 17, 19, 23, 29, 31, 37, 41, 43, 47, 53, 59, 61, 67, 71, 73, 79, 83, 89, 97.

अभाज्य संख्याओं का महत्व यह है कि किसी भी अशून्य प्राकृतिक संख्या के गुणनखण्ड को केवल अभाज्य संख्याओं के द्वारा व्यक्त किया जा सकता है और यह गुणनखण्ड एकमेव (unique) होता है। इसे अंकगणित का मौलिक प्रमेय कहा जाता है।

अभाज्य संख्या किसे कहते हैं?

ऐसी संख्याये जो 1 और स्वयं के सिवा किसी और संख्या से विभाजित नहीं होती है। या जिन संख्याओं का गुणनखंड नही होता है , वैसी संख्याये को अभाज्य संख्याये कहते हैं

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगो को बताया कि sabse chhoti abhajya sankhya kya hai और अभाज्य संख्या किसे कहते हैं तो आपको ये छोटी सा आर्टिकल पसंद आया होगा। और अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर कीजिये।

Read Also-

Leave a Comment